Agriculture Current Affair – August 2023

Agriculture current affair

Agriculture Current Affair

1- सरकार ने व्यवसाय करने में आसानी को प्रोत्साहित करने और विश्वास-आधारित शासन को बढ़ावा देने की दिशा में एक बड़ा कदम उठाते हुए, 28 अगस्त, 2023 को प्रदर्शन मूल्यांकन के लिए ट्रैक्टरों के परीक्षण की प्रक्रिया को सरल बना दिया है। ट्रैक्टर निर्माताओं को अब सीएमवीआर/उत्पादन का अनुरूपता  प्रमाण पत्र के आधार पर सब्सिडी योजना में भाग लेने की अनुमति दी जाएगी और कंपनी द्वारा दी जाने वाली स्व-घोषणा में यह निहित होगा कि सब्सिडी के तहत शामिल होने वाला प्रस्तावित ट्रैक्टर, कृषि एवं किसान कल्याण विभाग द्वारा दिए गए बेंचमार्क विनिर्देश मानकों के अनुरूप है। इसके साथ ही, ट्रैक्टर निर्माता यह भी पुष्टि करेगा कि ट्रैक्टर मॉडल परीक्षण के लिए प्रस्तुत किया गया है और उस पर परीक्षण रिपोर्ट 6 महीने के भीतर कृषि एवं किसान कल्याण विभाग को दी जाएगी। निर्माताओं को सब्सिडी के तहत आपूर्ति किए जाने वाले ट्रैक्टर पर न्यूनतम तीन साल की वारंटी देनी होगी।

अब से  (चार) अनिवार्य परीक्षणों के लिए निम्नलिखित प्रक्रिया का पालन किया जाएगा:

a- ड्रॉबार प्रदर्शन परीक्षण

b-  पीटीओ निष्पादन और हाइड्रोलिक निष्पादन परीक्षण

c- ब्रेक निष्पादन

Agriculture Current Affair – September 2023

2-  प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में लाल किले में आयोजित स्वतंत्रता दिवस समारोह में विशिष्ट अतिथि के रूप में शामिल देशभर के सैकड़ों किसानों का केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री श्री नरेंद्र सिंह तोमर ने अपने दिल्ली आवास पर स्वागत किया, इनके सम्मान में सहभोज का आयोजन किया गया। भारत सरकार के निमंत्रण पर आए ये कृषक, किसान उत्पादक संगठन (एफपीओ), प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि आदि योजनाओं के लाभार्थी हैं, जिन्होंने मोदी सरकार द्वारा किसान कल्याण के लिए संचालित योजनाओं की दिल खोलकर सराहना की तथा इन योजनाओं के माध्यम से उन्हें मिल रहे लाभों के बारे में अपने अनुभव साझा किए।

3-राष्ट्रीय मिशन-ऑयल पाम के अंतर्गत, राज्य सरकारों ने ऑयल पाम प्रसंस्करण कंपनियों के साथ मिलकर ‘मेगा ऑयल पाम वृक्षारोपण अभियान’ का शुभारंभ किया,आंध्र प्रदेश, अरुणाचल प्रदेश, असम, गोवा, कर्नाटक, मिजोरम, नागालैंड, ओडिशा, तमिलनाडु, तेलंगाना और त्रिपुरा इसके प्रमुख तेल उत्पादक राज्य हैं,इस अभियान के माध्यम से, राज्य और कंपनियां 11 राज्यों के 49 जिलों के 77 गांवों में 7000 से अधिक किसानों तक पहुंचने में सक्षम रही और इस दौरान लगभग 3500 हेक्टेयर क्षेत्र को शामिल करते हुए 5 लाख से अधिक वृक्षारोपण किया गया।

4-राष्ट्रीय दुग्ध दिवस (26 नवंबर, 2023) के अवसर पर राष्ट्रीय गोपाल रत्न पुरस्कार -2023 प्रदान किए जाएंगे, पशुपालन और डेयरी विभाग, मत्स्य पालन, पशुपालन और डेयरी मंत्रालय राष्ट्रीय पुरस्कार पोर्टल यानी https://awards.gov.in के माध्यम से 15 अगस्त 2023 से वर्ष 2023 के दौरान राष्ट्रीय गोपाल रत्न पुरस्कार के लिए ऑनलाइन नामांकन आमंत्रित करता है। नामांकन/आवेदन जमा करने की अंतिम तिथि 15 सितम्‍बर, 2023 है।

Agriculture Current Affair

राष्ट्रीय दुग्ध दिवस के अवसर पर राष्ट्रीय गोपाल रत्न पुरस्कार -2023 प्रदान किए जाएंगे, जाने कैसे 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *